Home Breaking News काबुल के इंटरकॉन्टिनेंटल होटल पर आतंकी हमला, 5 की मौत, बचाए गए 120 लोग

काबुल के इंटरकॉन्टिनेंटल होटल पर आतंकी हमला, 5 की मौत, बचाए गए 120 लोग

0
0
293
काबुल, एजेंसी। अफगानिस्‍तान की राजधानी काबुल स्थित पांच सितारा इंटरकॉन्टिनेंटल होटल में घुसे सभी आतंकियों को सुरक्षा बलों ने मार गिराया। गृह मंत्रालय ने इस संबंध में जानकारी देते हुए कहा कि होटल में तीन आतंकी थे और तीनों को ही मार गिराया गया। हमले में पांच लोगों की मौत हो गई, जबकि छह अन्‍य घायल हो गए। मारे गए लोगों में एक विदेशी नागरिक भी शामिल है। 12 घंटे तक ऑपरेशन चला। सुरक्षा बलों ने होटल से 120 से अधिक लोगों सुरक्षित बचाया है। इनमें अधिकतर विदेशी नागरिक हैं।
आतंकियों ने शनिवार शाम इस लग्‍जरी होटल पर हमला बोल दिया था। उन्‍होंने वहां मौजूद कर्मचारियों और मेहमानों को निशाना बनाना शुरू कर दिया। होटल के कुछ हिस्‍सों में आग भी लगा दी। वहीं कुछ लोगों को बंधक भी बना लिया। बचने के लिए लोगों को होटल के छज्‍जे से कूदते हुए भी देखा गया। अफगान गृह मंत्रालय के प्रवक्ता नजीब दानिश ने हमले की पुष्टि करते हुए बताया था कि सुरक्षाबलों ने पूरे इलाके की घेराबंदी कर दी है।
प्रत्‍यक्षदर्शी का दावा, 15 लोगों की हुई मौत
टोलो न्यूज के मुताबिक, हमलावरों से बचकर आए एक युवक ने बताया कि 15 से अधिक लोग मारे गए हैं और कई लोग घायल हैं। हमले में घायल लोगों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है।
‘अल्लाह हू अकबर’ के नारे लगा रहे थे आतंकी
हमले में बचे एक युवक ने बताया कि हमलावर लोगों को होटल की ऊपर की मंजिलों से नीचे फेंक रहे थे। उसने बताया कि उसने होटल के बाहर चार शव देखे हैं, साथ ही उसने बताया कि हमलावर ‘अल्लाह हू अकबर’ के नारे लगा रहे थे।
सभी आतंकियों को मार गिराया
विशेष सुरक्षा बलों ने होटल में घुसे तीनों आतंकियों को मार गिराया। वे होटल के मेहमानों को अपना निशान बना रहे थे। अफगानी मीडिया रिपोर्टों के मुताबिक, तालिबान ने इस आतंकी हमले की जिम्मेदारी ली है।
किचन के जरिए होटल में की थी एंट्री
सूत्रों के अनुसार, हाल में ही होटल की सुरक्षा का जिम्मा एक निजी सुरक्षा कंपनी को दिया गया था। होटल में फंसे स्टाफ के रिश्तेदारों ने बताया कि आतंकियों ने होटल के एंट्रेंस पर ही सिक्यॉरिटी गार्ड्स को मार गिराया था और वे किचन के जरिए होटल के अंदर आए थे। होटल की बिजली भी सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए काट दी गई है। सुरक्षाबल हेलिकॉप्टर के जरिए होटल की छत पर उतरे।

अमेरिकी दूतावास ने पहले ही थी चेतावनी
काबुल स्थित अमेरिकी दूतावास ने कहा कि उन्होंने गुरुवार को ही अपने नागरिकों को चेतावनी दी थी। उन्हें पता था कि कुछ अातंकी संगठन काबुल में होटलों को अपना निशाना बना सकते हैं।

2011 में भी हुआ था आतंकी हमला
बता दें कि इंटरकॉन्टिनेंटल होटल में यह पहली आतंकी घटना नहीं है। इससे पहले 28 जून 2011 को भी इस होटल को आंतकियों ने निशाना बनाया था। हमले में 21 लोगों की मौत हो गई थी। 5 घंटे तक बंधक संकट रहा और बाद में सभी हमलावर मारे गए थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.