0
0
67

सुविचार:-जो सत्य और धर्म दोनों का वाहक हो उसमे अन्य सभी गुण स्वतः आ जाते हैं क्योंकि सद्गुण अपने ही अंदर होते हैं बस उन्हें जागृत करना होता है । शिक्षा:-सत्य और धर्म को अपनाओ । जय माँ,संकर्षण शरण (गुरु जी)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.