Home Breaking News महाराणा प्रताप भवन में विजयदशमी का भव्य आयोजन सम्पन्न हुआ

महाराणा प्रताप भवन में विजयदशमी का भव्य आयोजन सम्पन्न हुआ

0
0
79

भिलाईनगर  महाराणा प्रताप भवन में विजयदशमी का भव्य आयोजन सम्पन्न हुआ
क्षत्रिय पत्रिका के 22वें अंक का विमोचन सम्पन्न
मेधावी छात्र-छात्राओं सहित समाज के वरिष्ठ जनों का सम्मान

भिलाईनगर 19 अक्टूबर। क्षत्रिय कल्याण सभा द्वारा आयोजित विजयदशमी समारोह का रंगारंग आयोजन श्री सुरेश चंद अध्यक्ष इस्पात कर्मचारी सोसायटी के मुख्य अतिथि में सम्पन्न हुआ। समारोह की अध्यक्षता समाज के अध्यक्ष दिग्विजय बहादुर सिंह ने की। विशेष अतिथि के रूप में उप पुलिस अधीक्षक सीआईडी पुलिस मुख्यालय रायपुर श्री हरेन्द्र सिंह तोमर मंचासीन थे। समारोह में समाज की सालाना पत्रिका क्षत्रिय के 22वें अंक का विमोचन के साथ-साथ समाज के 11 वरिष्ठ जनों का शॉल, श्रीफल भेंट कर साफा पहनाकर व स्मृतिचिन्ह देकर सम्मानित किया गया। इस अवसर पर  समाज के मेधावी छात्र-छात्राओं को मेडल भी पुरूस्कार के रूप में दिया गया।

समारोह के प्रारंभ में अतिथियों ने भगवान राम के छायाचित्र पर माल्यार्पण कर दीप प्रज्जवलित करके कार्यक्रम का शुभारंभ किया। समाज के राजदेव सिंह सरल ने गायत्री मंत्रों का पाठ किया। समारोह को संबोधित करते हुए मुख्य अतिथि सुरेश चंद ने कहा कि, अधर्म पर धर्म की विजय के रूप में विजयदशमी हम मनाते हैं किन्तु आत्मविश्वास के लिए इन्द्रिया, मन और वाणी आदि पर विजय के लिए प्रतिदिन प्रयास करना चाहिए। क्षत्रियों को क्रोध में डूबने की अपेक्षा क्षमा भाव में निमज्जित होकर विकास करेंगे तो यह विजय एक दिन की नहीं हमेशा की होगी। हमें हर दिन जीत का उत्सव मनाना चाहिए। उन्होंने बेहतरीन आयोजन के लिए क्षत्रिय समाज को बधाई देते हुए  कहा कि, मन, कर्म और वचन पर विजय प्राप्त करने वाला व्यक्ति ही सही अर्थों में आत्मविजयी कहलाता है जो काम सिर्फ क्षत्रिय ही कर सकते हैं। उन्होंने कहा कि, क्षत्रिय अपने आन, बान और शान से कभी समझौता नहीं कर सकता। समारोह को संबोधित करते हुए विशिष्ट अतिथि हरेन्द्र सिंह तोमर ने अपने संबोधन में कहा कि, क्षत्रिय पुरूष स्वयं को जलाकर परोपकार के लिए मैत्री धर्म निभाता है। क्षत्रियों का लम्बा इतिहास रहा है, क्षत्रिय हमेशा सत्य के लिए लड़े हैं। कार्यक्रम के प्रारंभ में समाज के अध्यक्ष दिग्विजय बहादुर सिंह ने स्वागत भाषण देते हुए समाज की गतिविधियों पर प्रकाश डाला और समाज के विकास के लिए लोगों से सहयोग की अपेक्षा की। समारोह को पत्रिका के संपादक व मंत्री अरविंद सिंह, उपाध्यक्ष बद्री बिशाल सिंह, रामरतन सिंह, श्रीमती कल्पना भदौरिया, श्रीमती सरिता सिंह ठाकुर ने भी संबोधित किया।

समारोह में समाज के वरिष्ठ जन श्री रामरतन सिंह, श्री यज्ञराज सिंह सोमवंशी, श्री नंद किशोर सिंह, श्री शंकर सिंह बिसेन, श्री विरेश सिंह चौहान, श्री लक्ष्मण प्रसाद सिंह, श्री बादशाह सिंह, श्री चन्द्रशेखर प्रसाद सिह, श्री अरविंद कुमार सिंह, श्री कुंज बिहारी सिंह, श्री राजकिशोर सिंह को साफा पहनाकर शॉल-श्रीफल, स्मृति चिन्ह भेंट कर सम्मानित किया गया। समारोह में अतिथियों ने क्षत्रिय पत्रिका के 22वें अंक का विमोचन भी किया। कार्यक्रम में समाज के मेधावी छात्र-छात्राओं के अलावा नवरात्रि पर्व के दौरान आयोजित विभिन्न स्पर्धा के विजेताओं को भी पुरस्कृत किया गया।  समारोह में श्रीमती लालमुनी सिंह को उनके 90वें जन्मदिन के अवसर पर गुलदस्ता भेंट कर सम्मान किया गया। कार्यक्रम के अंत में 9 अक्टूबर को बीएसपी हादसे में जान गंवाने वाले 14 कर्मवीरों के अलावा नवरात्रि पर्व के दौरान सड़क दुर्घटना में मृत कैम्प 1 के 10 लोगों को 2 मिनट का मौन धारण कर श्रद्धांजली दी गई। समारोह का सफल संचालन संगठन मंत्री गजेन्द्र प्रताप सिंह व आभार प्रदर्शन कोषाध्यक्ष

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.