Home Breaking News अदभुत स्वागत्….रिझे जामगांव वासी….

अदभुत स्वागत्….रिझे जामगांव वासी….

0
0
111

 

सनातन धर्मस्वरूप परमपूज्य सदगुरू *श्री श्री रितेश्वर जी* श्रीधाम् वृन्दावन आध्यात्मिक प्रवास के तहत छत्तीसगढ़ के जिला गरियाबंद ग्राम जामगांव (फिंगेश्वर) पदार्पण पर ग्रामवासीयों ने मंगल आरती उतार, पुष्प वर्षा कर धमाल की भक्तिमय धुन, गगनभेदी जयकारा के साथ अद्भुत स्वागत कर अभिभूत हुये।
“गो लोकवासी बिरेन्द्र दीपक जी” के पुण्यस्मृति में आयोजित “श्रीमद् भागवत कथा ज्ञान यज्ञ महापुराण” के विश्रामो दिवस सप्तम दिवस) को श्रीमती उषा दीपक, उज्जवल दीपक के विशेष आग्रह पर राष्ट्रसंत के चरणरज़ गांव हुआ पवित्र।
गुरूदेव के धाराप्रवाह ओजस्वी अमृतवाणी से सुनकर ग्रामवासीयों का ह्रदय प्रफुल्लित हो उठा, हजारों जिज्ञासुओं ने कलकल करती कल्लोलवन्तनीय प्रवाहित अमृतधारा में अवगाहन कर अपने को धन्य माना। प्रबोधन की दिव्यता भी ऐसी कि समय की मर्यादिता में जीवन के तमाम पहलूओं पर मर्मस्पर्षी, ह्रदयस्पर्षी वेद, वेदान्त, शास्त्र, पुराण, निषद, उपनिषद, ब्रह्मसूत्र, श्रीमद् भागवत, रामायण, गीता के उद्धरण से बेबाक व्याख्यान दिये।
पूज्यश्री ने उपस्थितजनों को आशीर्वाद प्रदान करते हुये दो अद्वितीय अनमोल सूत्र दिये……
बार बार वर मांगहू हरषि दिन्ह श्रीरंग।
पद सरोज अनपायनी भक्ति सदा सत्संग।
और….
जेही विधि नाथ होई हित मोरा…।।
गुरूदेव का बड़ी गंभीर आख्यान इन पंक्तियों पर जो आशीर्वादरूप में प्रदान किये।
इस शुभ अवसर क्षेत्रीय विधायक राजिम विधान सभा मान. संतोष उपाध्याय सपरिवार दर्शनलाभ व प्रबोधन श्रवण कर आशीर्वाद लिये। क्षेत्र के प्रबुद्ध श्रोता, मीडिया के मित्रों, परिवार व कुटुम्बजनों ने भी आशीर्वाद लिये।
..

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.