Home Breaking News FACEBOOK हैक, हैकरों ने सर्वर को ‘उल्‍लू’ बना 5 करोड़ यूजर का डाटा उड़ाया

FACEBOOK हैक, हैकरों ने सर्वर को ‘उल्‍लू’ बना 5 करोड़ यूजर का डाटा उड़ाया

0
0
116

फेसबुक से एक बार फिर यूजर डाटा चोरी होने का मामले सामने आया है. सोशल नेटवर्किंग साइट का कहना है कि करीब 5 करोड़ यूजर का अकाउंट हैक हुआ है. इस बार यह डाटा किसी को बेचा नहीं गया बल्कि हैकरों ने चुराया. फेसबुक इस मामले की अपने स्‍तर से जांच कर रहा है. उसने फौरी तौर पर खतरे को टालने के ल‍िए सुरक्षा के इंतजाम किए हैं. साथ ही लॉ एजेंसियों को इस बारे में खबरदार कर दिया है.

‘व्‍यू ऐज’ फीचर पर हमला किया
कंपनी के मुताबिक हैकरों ने ‘व्‍यू ऐज’ फीचर पर हमला किया था. इसके जरिए वे यूजर एकाउंट में घुसे और डाटा हैक किया. यह फीचर फेसबुक का लोकप्रिय फीचर है. इसके जरिए कोई भी व्‍यक्ति किसी यूजर का प्रोफाइल देख सकता है. फेसबुक ने फिलहाल इस फीचर को डिसेबल कर दिया है. कंपनी के प्रोडक्‍ट मैनेजमेंट के वाइस प्रेसिडेंट गाई रोजन ने अपने ब्‍लॉग पोस्‍ट में लिखा है-’25 सितंबर को दोपहर में हमारी इंजीनियरिंग टीम को हैकिंग की जानकारी हुई. तब तक हैकर पांच करोड़ यूजर का डाटा हैक कर चुके थे. हमने इसे गंभीरता से लिया और सभी को बताना चाहते हैं कि उनके डाटा के साथ क्‍या हुआ. हमने उनके डाटा की सुरक्षा के लिए चेक लगा दिया है.’

कैसे हुआ हमला
फेसबुक के मुताबिक व्‍यू एज फीचर के जरिए हैकर साइट में घुसे. इसके जरिए उन्‍होंने फेसबुक के एक्‍सेस टोकन चुराए और यूजर एकाउंट पर कुछ देर के लिए कंट्रोल कर लिया.

Collects user data

क्‍या होते हैं एक्‍सेस टोकन
एक्‍सेस टोकन ‘डिजिटल की’ की तरह होता है. इसके जरिए यूजर को बार-बार लॉगइन की जरूरत नहीं पड़ती. फोन पर एक बार एप्‍लीकेशन लॉन्‍च करने के बाद वह सिर्फ एक बार पासवर्ड मांगता है और फिर यूजर उसे जब चाहे जैसे इस्‍तेमाल कर सकता है. हैंकरों ने इसी का फायदा उठाया. निजी कम्‍प्‍यूटर या लैपटॉप पर भी लोग फेसबुक लॉग इन करने के बाद उसे लॉग आउट नहीं करते.

हैकर सर्वर को उल्‍लू बनाने में सफल रहे
हिन्‍दुस्‍तान टाइम्‍स ने ल्‍यूसिडस साइबर सिक्‍योरिटी फर्म के सीईओ साकेत मोदी के हवाले से कहा कि हैकर फेसबुक सर्वर को उल्‍लू बनाने में सफल रहे. उन्‍होंने वह तरीका अपनाया जिससे सर्वर को लगे कि यूजर असली है. इससे उन्‍हें यूजर के खातों का फुल कंट्रोल मिल गया था.

facebook

कैसे बचें हैंकिंग से
> फेसबुक का कहना है कि यूजर को अपना पासवर्ड रीसेट करने की जरूरत नहीं है.
> लेकिन अगर उन्‍हें हैकिंग से बचना है तो टोकन अकाउंट रीसेट करने होंगे ताकि हैकिंग न हो सके.
> कंपनी ने कहा कि यूजर के डाटा की प्राइवेसी और सुरक्षा हमारे लिए सबसे ज्‍यादा जरूरी है और हम इसके लिए माफी चाहते हैं.
> जिन लोगों को फेसबुक अकाउंट लॉगइन करने में दिक्‍कत आ रही है वे हेल्‍प सेंटर की मदद लें.
> फेसबुक यूजर को अपने सभी अकाउंट से लॉग आउट कर जाना चाहिए और फिर लॉगइन करना चाहिए.
> वे अपना पासवर्ड बदलकर भी हैकिंग से बच सकते हैं. इसके लिए उन्‍हें टू स्‍टेप वेरिफिकेशन टूल का इस्‍तेमाल करना होगा.
> यूजर प्राइवेसी सेटिंग में जाकर अपने ताजा पोस्‍ट और फोटो देख सकते हैं क्‍योंकि फिलहाल व्‍यू एज फीचर डिसेबल कर दिया गया है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.