Home Breaking News FIFA WORLD CUP: फ्रांस की जीत पर जब उछल पड़े राष्ट्रपति मैक्रों

FIFA WORLD CUP: फ्रांस की जीत पर जब उछल पड़े राष्ट्रपति मैक्रों

0
0
147

फ्रांस ने रविवार को शानदार प्रदर्शन करते हुए फाइनल मैच में क्रोएशिया को 4-2 से शिकस्त देकर फीफा विश्व कप के 21वें संस्करण का खिताब अपने नाम कर लिया. इस दौरान फ्रांस और क्रोएशिया के राष्ट्रपति अपनी अपनी टीमों का जोश बढ़ाने के लिए स्टेडियम में मौजूद थे.

फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों तो अपने देश की जीत के बाद जोश में झूमकर उछल पड़े, जबकि क्रोएशिया की राष्ट्रपति कोलिंदा ग्राबर कितारोविक ने मैक्रों को गले लगाकर बधाई दी. दुनिया के खेल प्रेमियों के लिए यह बहुत ही भावुक कर देने वाला पल था. इस जीत के बाद पूरे फ्रांस में जश्न का माहौल तारी है. लोगों को फ्रांस में हर जगह जश्न मनाते हुए देखा गया.

हालांकि, कोलिंदा ने पहले ही कह चुकी थीं कि वह फाइनल देखने नेता या राष्ट्रपति के रूप में नहीं जाएंगी बल्कि क्रोएशियाई फुटबॉल की एक जुनूनी प्रशंसक के रूप में जाएंगी. एक ऐसे इंसान के रूप में, जिसने बचपन में फुटबॉल खेला है. कोलिंदा की इस खेल भावना की पुरस्कार वितरण समारोह में काफी चर्चा होती रही.

हार के बाद भी क्रोएशिया की राष्ट्रपति ने अपनी टीम के खिलाड़ियों की हौसला अफजाई की. बारिश में भीगते खिलाड़ी अपना पुरस्कार लेने आए तो क्रोएशिया की राष्ट्रपति कोलिंदा ने उन्हें गले लगाकर सांत्वना दी. वे इतनी भावुक हो गईं कि उनकी आंखों से आंसू छलक पड़े.

विश्व कप फुटबॉल का फाइनल खत्म होने के कुछ समय पूर्व ही हल्की बूंदा बांदी शुरू हो गई थी, लेकिन कुछ ही देर में बारिश तेज हो गई. पहले मैच में कुल 6 गोलों की बरसात हुई और उसके बाद आसमान से हुई तेज बारिश से लग रहा था कि कुदरत भी फ्रांस की जीत के बाद जमकर मेहरबान है.

पिछले चार विश्व कप के फाइनल मैचों के आंकड़े बताते हैं कि इनमें कुल 6 गोल हुए थे, लेकिन इस विश्व कप के फाइनल में ही 6 गोल दागे गए. हालांकि 1930, 1938, 1958 और 1966 के फाइनल मैचों में भी पांच से ज्यादा गोल हुए थे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.