Home Breaking News 17 साल की उम्र में फतह किया 5,895 मीटर ऊंचा पर्वत, एवरेस्ट पर भी फहरा चुकी हैं तिरंगा

17 साल की उम्र में फतह किया 5,895 मीटर ऊंचा पर्वत, एवरेस्ट पर भी फहरा चुकी हैं तिरंगा

0
0
119

हरियाणा की रहने वाली शिवांगी पाठक ने महज 17 साल की उम्र में दक्षिण अफ्रीका की सबसे ऊंची किलिमंजारो पर्वत चोटी फतह कर ली. माउंट एवरेस्ट फतह करने करने वाली शिवांगी की उपलब्धि को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ‘अति विशाल’ कहा है. पीएम ने ट्वीट के जरिए इस पर्वतारोही को बधाइयां दी हैं. किलिमंजारो 5,895 मीटर ऊंचा पर्वत है. इसे ‘रूफ ऑफ अफ्रीका’ कहा जाता है. शिवांगी ने मारनगु रूट से 21 जुलाई को पर्वत पर चढ़ने का अपना सफर शुरू किया, जो महज तीन दिन में यानी 24 जुलाई को पूरा कर लिया.

हिसार की रहने वाली शिवांगी हमेशा से ही भीड़ से अलग हटकर दिखना चाहती थीं. दिव्यांग पर्वतारोही अरुणिमा सिन्हा को अपनी प्रेरणा का स्त्रोत मानती हैं. उनके वीडियो देखकर शिवांगी ने ट्रेनिंग ली थी. पर्वतारोही शिवांगी अपने घरवालों का धन्यवाद देते नहीं थक रहीं, क्योंकि उन्हीं की मदद से यह सब कुछ संभव हुआ.

उन्होंने कहा, “लड़कियों को अपने माता-पिता को यह समझाने की ज़रूरत है कि वे अपने लक्ष्यों को प्राप्त कर सकती हैं. बदले में माता-पिता को अपनी बेटियों को हर तरह से समर्थन देना चाहिए. ऐसा कुछ भी नहीं है जो महिलाएं नहीं कर सकतीं.” एक इंटरव्यू में शिवांगी ने कहा कि मेरा एकमात्र मिशन इस खूबसूरत ग्रह के हर पहाड़ पर विजय प्राप्त करना है. शिवांगी अब यूरोप की सबसे ऊंची चोटी को मापने की सोच रही है.

Shivangi conquered mount Everest after getting sarcasm from her mother

इस लड़की ने कम उम्र में ही जवाहर इंस्टीट्यूट ऑफ माउंटेन से पर्वतारोहण के बेसिक और एडवांस कोर्स पूरे कर लिए हैं. उन्होंने कश्मीर में ऊंचे-ऊंचे ग्लेशियरों पर चढ़ने की ट्रेनिंग में भी भाग लिया है.

माउंट एवरेस्ट भी फतह कर चुकीं
वहीं, 16 साल की उम्र में ही पर्वतारोही शिवांगी पाठक ने 29 हजार फीट ऊंचे माउंट एवरेस्ट पर चढ़कर इतिहास में नाम दर्ज करवा दिया था.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.