Home Breaking News IND Vs SA : क्या इतिहास बदल सकेंगे विराट के ‘वीर’, जानें डरबन में कैसा है टीम इंडिया का रिकॉर्ड

IND Vs SA : क्या इतिहास बदल सकेंगे विराट के ‘वीर’, जानें डरबन में कैसा है टीम इंडिया का रिकॉर्ड

0
0
105

नई दिल्ली: भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच टेस्ट सीरीज खत्म होने के बाद वनडे सीरीज गुरुवार से शुरू होगी. टेस्ट में भारत को 1-2 से हार का स्वाद चखना पड़ा, लेकिन वडे में टीम इंडिया बदला लेने के इरादे से मैदान में उतरेगी. 6 मैचों की वनडे सीरज का पहला मैच डरबन में खेला जाएगा.

दक्षिण अफ्रीकी जमीन पर भारत का रिकॉर्ड कुछ अच्छा नहीं रहा है. भारतीय टीम को इतिहास बदलने के लिए एंड़ी-चोटी का ज़ोर लगाना होगा. 1992-93 से डरबन में भारत ने 7 वनडे मैच खेले हैं. इसमें उसे 6 में हार मिली है और एक मैच बेनतीजा रहा है. इतना ही नहीं दो देशों की सीरीज़ में भी भारत का यहां रिकॉर्ड ख़राब है.

​द्विपक्षीय सीरीज की बात करे तो भारत ने अफ्रीकी टीम के खिलाफ अफ्रीकी जमीन पर चार द्विपक्षीय सीरीज में खेल चुकी है. सबसे चौकाने वाली बात है कि इन चारों में टीम इंडिया के शूरवीरों को हार का सामना करना पड़ा है. दो सीरीज में तो टीम इंडिया व्हाइटवॉश की भी शिकार बनी. ऐसे में विराट कोहली के लिए अफ्रीकी चुनौती आसान नहीं होगी.

साल                      नतीजा
1992-93                  5-2
2006-07                4-0
2010-11                  3-2
2013-14                 2-0

इतिहास अफ्रीकी टीम के पक्ष में 
दूसरी ओर इतिहास दक्षिण अफ्रीकी टीम के पक्ष में दिखाई दे रहा है. फाफ डू प्लेसिस की टीम अपने घर में हमेशा चैंपियन रही है. 2016 से टीम अपने घर में 19 वनडे मैच खेली है और इसमें से 17 में उसे जीत हासिल हुई है और 2 में वो हारे हैं. आईसीसी वनडे रैंकिंग में नंबर-1 पर मौजूद अफ्रीकी टीम को उसके घर में चुनौती देना आसान नहीं होगा.

आईसीसी रैंकिंग में भी नंबर एक की जंग
आईसीसी की मौजूदा वनडे रैंकिंग में दक्षिण अफ्रीकी टीम 121 अंक के साथ टॉप पर है वहीं, भारतीय टीम 119 अंक के साथ दूसरे नंबर पर है. तीसरे नंबर पर इंग्लैंड टीम के 116 अंक हैं. अगर वनडे सीरीज में 4-2 या इससे बेहतर नतीजा भारत के पक्ष में रहा तो वनडे में वो नंबर एक बनेगी. वहीं प्रोटियाज अगर 5-1 से जीते तो उनकी नंबर एक रैंकिंग बरकरार रहेगी और भारत तीसरे स्थान पर मौजूद इंग्लैंड से नीचे आ जाएगा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.