Home Breaking News जावा ने ली भारतीय बाजार में एंट्री, कंपनी ने पेश किए 3 नए मॉडल, जानें कीमत

जावा ने ली भारतीय बाजार में एंट्री, कंपनी ने पेश किए 3 नए मॉडल, जानें कीमत

0
0
101

मोटरसाइकिल ब्रांड Jawa ने फिर से भारतीय बाजार में एंट्री ले ली है. कंपनी ने इसके 3 मॉडल पेश किए हैं. इनमें दो मॉडल 293 सीसी इंजन से लैंस हैं जबकि जावा पर्क 334 सीसी से लैस है. ये इंजन बीएस6 प्रौद्योगिकी पर आधारित हैं. जावा भारत और दुनिया की मशहूर बाइक ब्रांड रहा है. 1996 में कंपनी ने भारत में परिचालन रोक दिया था.

अब जावा महिंद्रा एंड महिंद्रा के साथ साझेदारी में फिर से भारतीय बाजार में आई है. जावा रेंज का क्‍लासिक वैरिएंट है. कंपनी ने इस रेड कलर में उतारा है. वहीं जावा 42 सफेद रंग में आई है. जावा पर्क बॉबर कस्‍टम कलर में है. महिंद्रा एंड महिंद्रा ने Jawa और Jawa 42 को 15 नवंबर को लॉन्‍च कर दिया है लेकिन कस्‍टम बॉबर को 2019 में उतारा जाएगा.

जावा ने इन मोटरसाइकलों को कुछ इस तरह से डिज़ाइन किया है कि इन्हें देखते ही आपको 80-90 के दशक की याद आएगी. विंटेज लुक्स के साथ कंपनी ने इसे तकनीकी रूप से काफी एडवांस और दमदार बनाया है. नई जावा 300 में क्रोम फिनिश वाले डबल सायलेंसर और मरून पेन्ट स्कीम के साथ बाइक के फ्यूल टैंक से लेकर इंजन, हैडलैंप बेज़ल, इंडिकेटर्स, रियर व्यू मिरर और रियर शॉक कवर पर भी क्रोम वर्क दिया गया है. बाइक में क्रोम वायर-स्पोक व्हील्स दिए गए हैं. मोटरसाइकल के अगले हिस्से में जहां कंपनी ने डिस्क ब्रेक्स दिए हैं वहीं इसके पिछले व्हील में ड्रम ब्रेक लगाया गया है.

रॉयल एनफील्‍ड से है मुकाबला
जावा और जावा 42 का मुकाबला Royal Enfield Classic 350 से होगा. कंपनी का दावा है कि 105 डीलर इन दोनों मॉडलों की बिक्री करेंगे. हर डीलर ने इन मॉडलों की डीलरशिप के लिए दो करोड़ रुपए डिपॉजिट किए हैं. दिसंबर में 64 डीलरशिप मुख्‍य शहरों में खोली जा सकती है. फरवरी 2019 से इन मॉडलों की टेस्‍ट ड्राइव और डेलिवरी शुरू हो पाएगी. कंपनी सभी बाइक का निर्माण महिंद्रा के पीथमपुर प्‍लांट में कर रही है.

क्‍या है कीमत
Jawa 42 सबसे सस्‍ती बाइक है. इसकी कीमत 1.55 लाख रुपए रखी गई है. वहीं Jawa की कीमत 1.64 लाख रुपए रखी गई है. Jawa Perak कस्‍टम बॉबर 1.89 लाख रुपए की पड़ेगी. ये कीमतें एक्‍सशोरूम दिल्‍ली में हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.