Home Breaking News रोहित ने जताई कप्तानी की इच्छा, कहा- मैं धोनी की तरह ‘कूल’, टीम इंडिया को लीड करने के लिए तैयार

रोहित ने जताई कप्तानी की इच्छा, कहा- मैं धोनी की तरह ‘कूल’, टीम इंडिया को लीड करने के लिए तैयार

0
0
41

रोहित शर्मा अपनी कप्तानी में भारत को सातवां एशिया कप जिताने के बाद नियमित कप्तान बनने की इच्छा दबा नहीं सके. उन्होंने एक सवाल पर कहा कि यदि उन्हें मौका मिलता है तो वे टीम की कप्तानी करने को तैयार हैं. बीसीसीआई ने रोहित को एशिया कप के लिए विराट कोहली की जगह कप्तानी सौंपी थी. कोहली को इस टूर्नामेंट में रेस्ट दिया गया था.

भारत ने सातवीं बार एशिया कप जीता 
भारत ने शुक्रवार को बांग्लादेश को हराकर एशिया कप का खिताब अपने नाम किया. यह सातवां मौका है, जब भारत ने एशिया कप की ट्रॉफी अपने नाम की है. इसके साथ ही रोहित शर्मा उन कप्तानों के स्पेशल में शामिल हो गए हैं, जिनकी कप्तानी में भारत ने एशिया कप जीता है. इनमें सुनील गावसकर, दिलीप वेंगसरकर, मोहम्मद अजहरुद्दीन, एमएस धोनी शामिल हो गए हैं. अजहर और धोनी की कप्तानी में भारत ने दो-दो एशिया कप जीते हैं.

रवि शास्त्री ने भी रोहित की कप्तानी की तारीफ की 
विराट कोहली की गैरमौजूदगी में भारतीय टीम की कमान संभालने वाले रोहित शर्मा ने शुक्रवार को मैच के बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस की. रोहित ने कहा कि उन्होंने पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी से दबाव की स्थिति में शांत रहने की कला सीख ली है. कोच रवि शास्त्री ने धोनी तरह शांत रहने वाले रोहित की तारीफ की.

धोनी की तरह मैं भी सोचने के बाद फैसले लेता हूं  
रोहित ने धोनी से खुद की तुलना करते हुए कहा, ‘मैंने उन्हें (धोनी) वर्षों से कप्तानी करते देखा है. वे कभी परेशान नहीं होते हैं. वे फैसला लेने में थोड़ा समय लेते हैं. ये वह चीजे हैं जो मुझ में भी हैं.’ उन्होंने कहा, ‘मैं भी सोचने के बाद ही कुछ प्रतिक्रिया देता हूं. हां, 50 ओवर के खेल में आपको समय मिल जाता है, आपके पास कुछ भी करने का समय होता है.’

एमएस धोनी हर वक्त मदद के लिए तैयार 
रोहित ने कहा, ‘मैं उनकी (धोनी) कप्तानी में लंबे समय तक खेला हूं. हम धोनी भाई से हमेशा सीखते रहते हैं क्योंकि वे काफी महान कप्तान रहे हैं. मैदान पर जब भी हम किसी परेशानी में होते हैं तो वे मदद के लिए तैयार रहते हैं.’

एशिया कप से पहले ट्राई सीरीज जिता चुके हैं रोहित
रोहित शर्मा का कार्यवाहक कप्तान के तौर पर रिकॉर्ड शानदार है. उन्होंने स्पष्ट किया कि जब भी मौका मिलेगा वे ‘फुल टाइम’ कप्तानी के लिए तैयार रहेंगे. रोहित के नेतृत्व में भारत ने कई देशों वाले दो टूर्नामेंट – श्रीलंका में टी20 ट्राई सीरीज और अब एशिया कप 50 ओवर के टूर्नामेंट में जीत हासिल की.

जब भी मौका मिलेगा, कप्तानी के लिए तैयार हूं
आईपीएल टीम मुंबई इंडियंस के कप्तान रोहित से जब पूछा गया कि क्या वे भविष्य में लंबे समय की कप्तानी के लिए तैयार हैं तो उन्होंने मुस्कुराते हुए कहा, ‘निश्चित रूप से, हमने हाल में जीत दर्ज की. इसलिये मैं निश्चित तौर पर कप्तानी के लिए तैयार हूं. जब भी मौका मिलेगा मैं तैयार रहूंगा.’

खिलाड़ियों से कह दिया था कि पूरा मौका मिलेगा 
विराट अपनी टीम में जल्दी-जल्दी बदलाव के लिए जाने जाते हैं. लेकिन रोहित शर्मा ने एशिया कप में अपनी टीम में तभी बदलाव किया, जब टीम फाइनल में पहुंच गई थी. उन्होंने कहा, ‘जब आपके कुछ सीनियर खिलाड़ियों को आराम दिया जाता है तो यह किसी भी टीम के लिए चुनौतीपूर्ण होता है. निश्चित रूप से वे वापसी करेंगे. जहां तक यहां खेलने वाले खिलाड़ियों का सवाल है तो मैंने सबसे कह दिया था, कि जिसे भी मौका मिलेगा, पूरा मौका मिलेगा. यह उन पर निर्भर करता है कि जब भी उन्हें मौका मिले, वे इस मौके का पूरा फायदा उठाए.’

एशिया कप में मैन ऑफ द टूर्नामेंट चुने गए शिखर धवन, पत्नी आएशा मुखर्जी और बेटे जोरावर के साथ. (फोटो: IANS)

यह खिताब कड़ी मेहनत का फल है
रोहित ने कहा, ‘हमने पूरे टूर्नामेंट में शानदार क्रिकेट का प्रदर्शन किया और मुझे लगता है और यह खिताब उसी मेहनत का फल है. खेल में इस तरह की चीजें होती रहती है. मैं पहले भी इस प्रकार के मैचों का हिस्सा रहा हूं. खिलाड़ियों ने दबाव में जिस तरह का प्रदर्शन किया, इसके उनकी तारीफ की जानी चाहिए.’ भारत ने इससे पहले 1984, 1988, 1990-91, 1995, 2010 और 2016 में एशिया कप का खिताब जीता था.

एशिया कप में मैन ऑफ द टूर्नामेंट चुने गए शिखर धवन, पत्नी आएशा मुखर्जी और बेटे जोरावर के साथ. 

यह खिताब कड़ी मेहनत का फल है
रोहित ने कहा, ‘हमने पूरे टूर्नामेंट में शानदार क्रिकेट का प्रदर्शन किया और मुझे लगता है और यह खिताब उसी मेहनत का फल है. खेल में इस तरह की चीजें होती रहती है. मैं पहले भी इस प्रकार के मैचों का हिस्सा रहा हूं. खिलाड़ियों ने दबाव में जिस तरह का प्रदर्शन किया, इसके उनकी तारीफ की जानी चाहिए.’ भारत ने इससे पहले 1984, 1988, 1990-91, 1995, 2010 और 2016 में एशिया कप का खिताब जीता था.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.